बेचैनियाँ बाजारों में नहीं मिला करती

[box type=”shadow” align=”” class=”” width=””]

बेचैनियाँ बाजारों में नहीं मिला करती,

मेरे दोस्त….!

इन्हें बाँटने वाला, कोई बहुत नजदीक का होता हैं..!!!

becheniya bazaron me nahi mila karti
mere dost………!
inhe bantne, wala koi bahut najdik ka hota hai

🌹Good Night🌹

[/box]

Related Post
Recent Posts

This website uses cookies.