जब अपनी भी गर्मियों की छुट्टियां होती थीं

फ़िक्र से आज़ाद थे और
खुशियाँ इक़ट्ठी होती थीं..।

वो भी क्या दिन थे,
जब अपनी भी
गर्मियों की छुट्टियां होती थीं..।

🌱हैप्पी गर्मियाँ🌱

Related Post
Recent Posts

This website uses cookies.