जागो बंसीवारे ललना, जागो मोरे प्यारे – Janmashtami Poem in Hindi

रजनी बीती भोर भयो है, घर घर खुले किवाड़े
गोपी दही मथत सुनियत है, कंगना की झनकारे
जागो बंसीवारे ललना, जागो मोरे प्यारे

कृष्ण जन्मोत्सव की हार्दिक शुभकामनायें

Related Post
Recent Posts

This website uses cookies.