लम्हे फुर्सत के आएं तो रंजिशें भुला देना दोस्तों

/
6 Views

lmahe fursat ke aaye to

लम्हे फुर्सत के आएं तो,
रंजिशें भुला देना दोस्तों,

किसी को नहीं खबर
कि………
सांसों की मोहलत कहाँ तक है

Lamhe fursat ke aaen to,
ranjishen bhula dena doston,
kisi ko nahin khabar
ki………
saanson ki mohalat kahan tak hai

🙏Good Morning🙏

This div height required for enabling the sticky sidebar