Mahatma Gandhi

जन्म: 2 अक्टूबर 1869
पोरबंदर, काठियावाड़, गुजरात, भारत
मृत्यु: 30 जनवरी 1948 (78 वर्ष की आयु में), नई दिल्ली, भारत
मृत्यु का कारण: हत्या
राष्ट्रीयता: भारतीय
अन्य नाम: राष्ट्रपिता, महात्मा, बापू, गांधीजी
शिक्षा: यूनिवर्सिटी कॉलेज, लंदन
प्रसिद्धि कारण: भारतीय स्वतंत्रता संग्राम, सत्याग्रह, अहिंसा, शांति
राजनैतिक पार्टी: भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस

मोहनदास करमचंद गांधी (महात्मा गांधी) एक सशक्त राजनैतिक और आध्यात्मिक नेता थे, वो अहिंसा को मानने वाले और हमेशा सत्य का पालन करने वाले व्यक्ति में से थे, गांधी को महात्मा के नाम से सबसे पहले 1915 में राजवैद्य जीवराम कालिदास ने संबोधित किया था।
महात्मा गांधी ने स्वतन्त्रता के लिए सर्व-प्रथम दक्षिण अफ्रीका में रह रहे भारतीयों के नागरिक अधिकारों के लिए सत्याग्रह शुरू किया था, उसके बाद जब वो भारत वापस आए तो उन्होने यहाँ के नागरिकों पर अंग्रेजों द्वारा हो रहे अत्याचार और भेदभाव के खिलाफ आवाज उठानी शुरू की।
और उनके इस सत्याग्रह ने पूरे भारत-वर्ष में एक महाक्रांति का रूप ले लिया और अंग्रेजों को भारत छोडने पर मजबूर कर दिया।
महात्मा गांधी के विचार सभी के लिए प्रेरणादायक रहे हैं, उनके विचारों को न केवल भारत में बल्कि पूरी दुनिया ने अपनाया और पालन किया, आइये पढ़ते हैं उनके कुछ प्रेरणादायक विचार।

This div height required for enabling the sticky sidebar
This div height required for enabling the sticky sidebar