जीवंत होने का अर्थ है चुनौती ताजी रहे, रोज नए की खोज जारी रहे

osho-ka-aaj-ka-vichar

जीवंत होने का अर्थ है: चुनौती ताजी रहे, रोज नए की खोज जारी रहे। क्योंकि नए की खोज में ही तुम अपने भीतर जो छिपे हैं स्वर, उन्हें मुक्त कर पाओगे। नए की खोज में ही तुम नए हो पाओगे। जैसे ही नए की खोज बंद होती है कि तुम पुराने हो गए, जराजीर्ण हो गए, खंडहर हो गए। एक क्षण को रुकती है नदी की धार और गंदी होनी शुरू हो जाती है। पवित्रता तो सदा बहते रहने का नाम है। तभी तक धार पवित्र और निर्मल रहती है जब तक बहती रहती है।

💐💐Rajneesh Osho💐💐

Check Also

osho-ke-vichar-sukh-dukh-par

दुख उधार का है आनंद स्वयं का है

  दुख उधार का है, आनंद स्वयं का है। आनंदित कोई होना तो अकेले भी …